होम : भविष्यवानियाँ :: इंटरनेशनल वास्तु एकेडेमी ने फ्रेंचाइजी राशि का विधान किया समाप्त।

इंटरनेशनल वास्तु एकेडेमी ने फ्रेंचाइजी राशि का विधान किया समाप्त।

10-07-2017


इन्टरनेशनल वास्तु एकेडेमी द्वारा अन्य शहरों में शाखा खोलने के नए नियम -

वास्तु के क्षेत्र में सघन प्रशिक्षण देने के लिए योग्य ज्योतिष  व वास्तु की संस्थाओं का अभाव है। इस स्थिति को देखते हुये वास्तु एकेडेमी ने अपने नियमों में शिथिलता देने का निर्णय किया है। अब आगे से वास्तु एकेडेमी की शाखाएं देश के किसी भी भाग में व किसी भी शहर में खोली जा सकती है। नये नियमों के तहत फे्रंचाइजी राशि का विधान समाप्त कर दिया गया है।

आपको क्या करना है

  1. 1. स्थानीय स्तर पर एक संस्था का गठन कर लें और वास्तु एकेडेमी में आवेदन पत्र प्रस्तुत करें, यह कार्य डाक व ईमेल से भी किया जा सकता है।
  2. संस्था के पदाधिकारी गैर ज्योतिषी भी हो सकते हैं जो प्रशिक्षण के लिये स्थान व ज्योतिषी उपलब्ध कराएंगे।
  3. कम से कम तीन योग्य शिक्षक पढ़ाने के लिये उपलब्ध हों। इन शिक्षकों को इन्टरनेशनल वास्तु एकेडेमी प्रशिक्षण देगी ताकि ये वास्तु एकेडमी द्वारा प्रदत्त पाठ्यक्रम के अनुरूप ही शिक्षण कार्य कर सकें।
  4. पाठ्यक्रम का नियंत्रण, परीक्षा, परीक्षा परिणाम एवं सर्टिफिकेशन का कार्य केन्द्रीय संस्था द्वारा ही किया जायेगा।
  5. इन्टरनेशनल वास्तु एकेडेमी द्वारा रेवेन्यू शेयरिंग के आधार पर शाखा खोलने की आज्ञा दी जायेगी। केन्द्रीय मुख्यालय का शेयर मात्र 20 प्रतिशत ही रहेगा। स्थानीय खर्चें, गेस्ट लेक्चर्स व विज्ञापन इत्यादि के खर्चे स्थानीय इकाई ही करेगी।
  6. स्थानीय इकाई को इन्टरनेशनल वास्तु एकेडेमी का लोगो व बैनर लगाना अनिवार्य होगा। यदि किराये का परिसर है तो किराये नामे में इसका उल्लेख करना आवश्यक है।
  7. इन्टरनेशनल वास्तु एकेडेमी की फ्रेंचाइजी के लिये कम से कम 500-1000 स्कवायर फीट जगह होना अनिवार्य है, यह जगह कहीं भी किराये पर ली जा सकती है।
  8. शिक्षकों की प्रोफाइल अच्छी होनी चाहिये व उन्हें अनुभव भी होना चाहिये। किसी बड़ी डिग्री की आवश्यकता नहीं है, परंतु शास्त्र का ज्ञान होना आवश्यक है। संस्था में लेपटोप, प्रोजेक्टर व अन्य साधन होना अतिरिक्त योग्यता मानी जायेगी।
  9. संस्था के प्रारम्भ के समय समारोह पूर्वक कार्य प्रारम्भ करना आवश्यक होगा।
  10. केन्द्रीय संस्था को समस्त सूचनाएं प्राप्त करने का व निरीक्षण करने का अधिकार होगा। कार्य प्रारम्भ करने से पूर्व दोनों पक्षों के बीच में MOU या इकरारनामा सम्पादित किया जाना आवश्यक है।
Date: - 10-07-2017
 प्रबंधक
इन्टरनेशनल वास्तु एकेडेमी
website : www.vastuacademy.com
Mob: +91 9928770003, 9928660002

Subscribe to NEWS and SPECIAL GIFT ATTRACTIVE

Corporate Consultancy
Jyotish Manthan
International Vastu Academy
Jyotish Praveen